भारत में दिग्गज से दिग्गज क्रिकेटर हमेशा ही जन्म लेते रहे हैं. इतना ही नहीं यहां क्रिकेट को एक त्योहार की तरह मनाया जाता है. यहां तक कि हमारे देश में क्रिकेट को एक धर्म की तरह माना जाता है, लेकिन कभी-कभी यहां जन्म लेने वाले खिलाड़ी दूसरे देश के लिए तुरुप का इक्का साबित हो जाते हैं. आज हम ऐसे ही कुछ खिलाड़ियों के बारे में जानेंगे, जिनका जन्म भारत में हुआ, लेकिन उन्होंने इंग्लैंड के लिए क्रिकेट खेला और साथ ही अंग्रेजी टीम को एक नई ऊँचाई तक पहुंचाया. आइये अब उन क्रिकेटरों के बारे में जानते है:

कोलिन काऊड्रे- इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज़ कोलिन काऊड्रे का जन्म 4 दिसम्बर 1932 को भारत के बैंगलोर में हुआ था. वो 100 टेस्ट मैच खेलने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी थे. उन्होंने इंग्लैंड के लिए 114 टेस्ट खेले. कोलिन इंग्लैंड के लिए सबसे ज़्यादा शतक जमाने वाले तीसरे बल्लेबाज़ भी थे. उन्होंने 22 शतक जमाए. क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद वो मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) के अध्यक्ष बने. इतना ही नहीं उन्होंने 1989 से 1993 तक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के चेयरमैन पद की भी भूमिका निभाई. 4 दिसम्बर 2000 को उन्होंने विश्व क्रिकेट जगत को अलविदा कह दिया.

विक्रम सोलंकी: इंग्लैंड के बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक विक्रम सोलंकी का जन्म 1 अप्रैल 1976 को भारत के राजस्थान में हुआ था, जब वो आठ साल के थे तब उनका परिवार भारत से इंग्लैंड में जा बसा था. सोलंकी ने इंग्लैंड के लिए 51 एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय और 3 टी20 मैच खेले. इतना ही नहीं उन्होंने घरेलू क्रिकेट में भी बहुत सारे रन बनाए हैं. वो क्रिकेट इतिहास में पहले ‘सुपरसब’ भी बने थे. इंग्लैंड के पूर्व सलामी बल्लेबाज़ ने सितम्बर 2015 को क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया.

रोबिन जैकमैन: क्रिकेट जगत के मशहूर ‘कमेंटेटर’ रोबिन जैकमैन का जन्म 1945 को पंजाब में हुआ था. इसके बाद वो अपने परिवार समेत इंग्लैंड में जा कर बस गए. जैकमैन ने अपने 399 प्रथम श्रेणी मैचों में 1402 विकेट हासिल किए थे, लेकिन क्रिकेट के अलावा वो अपनी कमेंट्री के लिए जाने जाते हैं. क्रिकेट मैच के दौरान फैंस उनकी आवाज़ सुनने को तरसते हैं. ‘सुपरस्पोर्ट्’ क्रिकेट कमेंट्री पैनल में उनकी आवाज़ से वहां सभी लोग प्यार करते हैं.

बॉब वूल्मर: पाकिस्तान के पूर्व कोच और इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर का जन्म 1948 को भारत के उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुआ था. वो एक खिलाड़ी से ज़्यादा बतौर बेहतरीन कोच के लिए जाने जाते थे. वूल्मर ने इंग्लैंड के लिए 19 टेस्ट और 6 एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले थे. इसके अलावा उन्होंने 350 प्रथम श्रेणी तथा 290 लिस्ट ए मैच खेले. वो दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कोच भी रह चुके थे. 2007 क्रिकेट विश्वकप के दौरान उनकी मौत की खबर ने विश्व क्रिकेट जगत को अचंभित कर दिया था.

नासिर हुसैन: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज़ नासिर हुसैन का जन्म 1968 को भारत के मद्रास (वर्तमान में चेन्नई) में हुआ था. 1975 में उनका परिवार इंग्लैंड में जाकर बस गया. उन्होंने इंग्लैंड के लिए 45 टेस्ट मैचों में कप्तानी की थी. इतना ही नहीं नासिर हुसैन की गिनती आज भी इंग्लैंड के सबसे सफल कप्तानों में की जाती है. उन्होंने इंग्लैंड के लिए 96 टेस्ट और 88 एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले. क्रिकेट से संन्यास के बाद उन्होंने एक बेहतरीन क्रिकेट कमेंटेटर की भूमिका निभाई.

Leave a comment

Cancel reply