पूर्व भारतीय ऑपूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने रवि शास्त्री भारतीय टीम की कोच का पद साल 2017 जुलाई में संभाला था। उस वक्त भारत को पाकिस्तान के खिलाफ 2017 चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। शास्त्री की कोचिंग में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में दो दौरे और घर में इंग्लैंड के विरुद्ध एक घरेलू सीरीज में जीत हासिल की। वहीं, उनकी कोचिंग में भारत को कुछ सीरीज और टूर्नामेंट में हार का स्वाद भी चखना पड़ा।

टीम इंडिया इंग्लैंड में एक टेस्ट सीरीज हारा, जबकि 2019 विश्व कप सेमीफइनल में भी हार का सामना करना पड़ा। इसके अलावा भारतीय टीम को हाल ही में न्यूजीलैंड के विरुद्ध आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल में हार मिली और यही असफलता रवि शास्त्री के कोचिंग करियर में हुई हैं। वहीं, अब खबरें सामने आ रही हैं कि रवि शास्त्री टी20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया का साथ छोड़ सकते हैं। ऐसे में भारतीय टीम के मुख्य कोच का पद खाली हो जाएगा।

बता दें कि शास्त्री का अनुबंध 2019 वर्ल्ड कप के बाद बढ़ाया गया था और इसे आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप तक बढ़ा दिया था। अब इस टूर्नामेंट के बाद शास्त्री मुख्य कोच पद को छोड़ देंगे तो फिर भारतीय टीम के कोच पद के लिए दोबारा से नामाकन किए जाएंगे। ऐसी पांच पूर्व दिग्गज खिलाड़ी हैं, जो टीम इंडिया के मुख्य कोच के रूप में रवि शास्त्री की जगह ले सकते हैं।

ये 5 खिलाड़ी, जो रवि शास्त्री की जगह टीम इंडिया के हेड कोच बन सकते हैं

राहुल द्रविड़

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का नाम इस सूची में शामिल है। द्रविड़ भारत की अंडर-19 टीम और भारत ए टीम के कोच रह चुके हैं। उनकी कोचिंग में भारत की अंडर-19 टीम साल 2016 में फाइनल में पहुंची थी, जबकि साल 2018 में टीम इंडिया ने ट्रॉफी जीती थी। द्रविड़ की कोचिंग में खेले भारतीय युवा खिलाड़ी क्रिकेट में उनके योगदान की जमकर प्रशंसा करते हैं।

48 साल के पूर्व भारतीय बल्लेबाज श्रीलंका दौरे पर गई हुई टीम इंडिया के साथ कोच के तौर पर गए हैं। वे पहले ही कह चुके हैं कि सीरीज जीतना ही उनका एकमात्र लक्ष्य है। इसी बीच द्रविड़ भारतीय टीम के साथ अगले कोच की भूमिका के लिए काफी अच्छे विकल्प हो सकते हैं। द्रविड़ के पास खेल का अच्छा ज्ञान है और वे भारतीय खिलाड़ियों के बारे में भी अच्छे से जानते हैं, जो उनके साथ काम कर चुके हैं। ऐसे में वे रवि शास्त्री को कोच के तौर पर रिप्लेस कर सकते हैं।

ट्रेवर बेलिस

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ट्रेवर बेलिस का नाम भी इस लिस्ट में शुमार है। बेलिस कई टीम्स को कोचिंग दे चुके हैं। उन्होंने श्रीलंका, सिडनी सिक्सर्स (बीबीएल) और इंग्लैंड जैसी टीम्स का कोच पद संभाला हुआ है। उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि साल 2019 में इंग्लैंड को विश्व कप जीत दिलाना था। उन्होंने विश्व कप से बाहर होने के बाद 2015 में टीम के कोच के रूप में पदभार संभाला और उन्होंने टीम का पूरा दृष्टिकोण ही बदल कर रख दिया। ऐसे में इंग्लैंड क्रिकेट टीम 2019 विश्व कप जीतने में कामयाब रही।

वे साल 2012 से लेकर 2014 तक आईपीएल फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइट राइडर्स के मुख्य कोच के पद पर थे। बेलिस की कोचिंग में तीन साल में से दो केकेआर ने आईपीएल खिताब जीता था और यह उनके कोचिंग करियर के शानदार उपलब्धि में से एक है। वे भारतीय खिलाड़ियों को बहुत करीब से जानते हैं और इस तरह से वे रवि शास्त्री की जगह लेने के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं।

टॉम मूडी

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर टॉम मूडी का नाम इस लिस्ट में शामिल हैं। मूडी एक और पूर्व क्रिकेटर हैं, जिन्होंने आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के साथ अपने समय के दौरान भारतीय खिलाड़ियों को करीब से जाना है। उनकी कोचिंग में SRH ने साल 2016 में आईपीएल का पहली बार खिताब जीता था। उन्होंने श्रीलंकाई टीम को भी कोचिंग दी हुई है।

वे कैरेबियन प्रीमियर लीग के लिए इंटरनेशनल डायरेक्टर ऑफ़ क्रिकेटर के अलावा बीबीएल और पीएसएल की टीम्स के कोच के पद पर रह चुके हैं। आईपीएल 2020 की शुरुआत से पहले मूडी को SRH का मुख्य कोच बनाया गया था। वे आईपीएल 2021 की शुरुआत से पहले एसआरएच के क्रिकेट निदेशक के रूप में काम करते थे। वे रवि शास्त्री को कोच के रूप रिप्लेस कर सकते हैं।

वीरेंद्र सहवाग

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का नाम भी इस लिस्ट में शुमार है। भारतीय टीम के कोच पद के लिए रवि शास्त्री की जगह सहवाग दिलचस्प विकल्प हो सकते हैं। दिल्ली के इस खिलाड़ी का अंतरराष्ट्रीय करियर शानदार था, जहां उन्होंने कुछ रिकॉर्ड बनाए और कुछ तोड़े भी।

यदि सहवाग वास्तव में रवि शास्त्री की जगह लेने के लिए चुने जाते हैं तो वे कोचिंग में पूरी तरह से एक अलग तत्व लाएंगे। सहवाग ने कमेंट्री करने से पहले आईपीएल टीम पंजाब किंग्स के संरक्षक के रूप में एक भूमिका निभाई थी। यह देखना दिलचस्प होगा कि वे टीम इंडिया के मुख्य कोच के रूप में कैसा काम करते हैं।

महेला जयवर्धने

श्रीलंका के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज महेला जयवर्धने भी इस सूची में शामिल हैं। जयवर्धने की पहली कोचिंग भूमिका साल 2015 में इंग्लैंड की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के साथ बल्लेबाजी सलाहकार के रूप में थी। हालांकि, साल 2017 में वे मुंबई इंडियंस के साथ मुख्य कोच के रूप में जुड़ गए। उन्होंने रिकी पोंटिंग की जगह ली थी और अब तक टीम का कोच पद संभाल रहे हैं। उनकी कप्तानी में टीम ने साल 2017, 2019 और 2020 में आईपीएल का खिताब जीता।

यह भी पढ़ें | 8 भारतीय खिलाड़ी, जिनका बीसीसीआई सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट उनके मौजूदा आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट से अधिक है

उनकी इस उपलब्धि के कारण ही टीम इंडिया के अगले मुख्य कोच के रूप में महेला जयवर्धने एक अच्छी संभावना बन सकते हैं। बेलिस और मूडी की तरह, वे भी भारतीय खिलाड़ियों को बहुत करीब से जानते हैं। वे निश्चित रूप से रवि शास्त्री के लिए एक अच्छे प्रतिस्थापन हो सकते हैं।